Thursday, October 16, 2008

क्या अरुंधती रॉय जैसे नकली बुद्धिजीवियों को देश के खिलाफ गतिविधियों में शामिल रहने के लिए कानूनी सज़ा या फांसी नहीं दे देनी चाहिए। बड़े अफ़सोस की बात है की भारत ही एक ऐसा देश है जहाँ रहते हुए ही आप देश विरोधी गतिविधियों में शामिल रह सकते हैं और आपको कोई सज़ा भी नहीं मिलेगी। अरुंधती रॉय के खिलाफ कानूनी मामला चला का उसे फ़ौरन गिरफ्तार किया जाए। अब ऐसे में हमारी प्यारी अरुंधती रॉय निस्संदेह देश छोड़ कर भाग जाएँगी। तो ऐसे में वह जिस देश में भी भाग कर जाती हैं भारत फ़ौरन उस देश से अपने सभी प्रकार के सम्बन्ध समाप्त करने की घोषणा कर दे। या इससे भी अच्छा तरीका है की हमारी प्यारी अरुंधती रॉय जिस देश में भी भाग कर जाती हैं भारत उस देश से कहे की अगर आप अरुंधती रॉय को पकड़ कर उसका चेहरा काला कर देते हैं और उसे gadhe पर baitha कर उसकी video clip bana कर दिखाते हैं तो आपके देश के साथ भारत के सम्बन्ध बहुत gahre होंगे।

2 comments:

DHAROHAR said...

Yeh ABVP ki bhasha to nahi lagti bhai.

प्रदीप मानोरिया said...

आपका ब्लॉग जगत में स्वागत है // आपको मेरे ब्लॉग पर काव्य रस के आनंद हेतु आमंत्रण है